Monday , 14 August 2017
Latest Happenings
Home » blog

blog

blog

आवश्यकता से अधिक न रखें धन

आवश्यकता से अधिक न रखें धन

रात का समय था। विश्व गुरु बसवेश्वर सोए हुए थे। एक चोर उनकी पत्नी नीला के गहने उतारने लगा। नीला की नींद खुल गई। वह जोर से चिल्लाने लगी। चोर भाग गया। बसवेश्वर जाग गए। उन्होंने अपनी पत्नी से पूछा कि, ‘क्या हुआ भाग्यवान? नीला ने बताया कि, एक चोर ने मेरे गहने उतार लिए हैं और तुम पूछ रहे ... Read More »

जानिए भारत के पहले प्रधानमंत्री की सेहत का रहस्य

जानिए भारत के पहले प्रधानमंत्री की सेहत का रहस्य

एक बार किसी व्यक्ति ने भारत के पहले प्रधानमंत्री पं.जवाहरलाल नेहरू से पूछा कि आपकी उम्र साठ से ऊपर हो गई है, आप पर काम का बोझ भी है, फिर भी आप हमेशा गुलाब के फूल की तरह ताजे दिखाई देते हैं। इसका रहस्य क्या है। नेहरू जी हंसे और फिर बोले कि, इसके तीन कारण हैं। पहला यह कि ... Read More »

जब पत्नी से हो जाए झगड़ा तो ऐसे मनाएं

जब पत्नी से हो जाए झगड़ा तो ऐसे मनाएं

अरस्तु की पत्नी का स्वभाव बहुत ही झगड़ालू था। वह क्रोधी स्वभाव की महिला थीं, एक शाम अरस्तु काफी देर से घर लौटे । पत्नी का गुस्सा सातवें आसमान था। अरस्तू के घर में कदम रखते ही वह जोर-जोर से पति को भला बुरा कहने लगी। अरस्तू मानव स्वभाव के गहन पारखी थे। उन्होंने गुस्से से भरी पत्नी के वचनों ... Read More »

रहीम की विनम्रता का अनोखा उदाहरण

रहीम की विनम्रता का अनोखा उदाहरण

कवि रहीम और कवि गंग गहरे मित्र थे। रहीम गरीबों को बड़े पैमाने पर दान दिया करते थे। वे पंक्ति में खड़े लोगों को जब दान देते थे तो अपनी नजरें नीची कर लेते थे। दान लेने वाले कुछ तो एक बार लेकर फिर दोबारा पंक्ति में लग जाते और फिर से दान ले लेते। गंग कवि को यह बड़ा ... Read More »

How to be Mentally and Emotionally strong?

emotionally

Have you been finding that you cry at the drop of a hat? Get angry unnecessarily? Maybe you just feel nervous all the time. Whatever you may be feeling, you should begin by understanding that experiencing emotions is a normal part of human living. There is nothing inherently “wrong” with any emotion. a. You do not have to eliminate or ... Read More »

ऐसे मिलती है वास्तविक मुक्ति, जरूर आजमाएं

ऐसे मिलती है वास्तविक मुक्ति, जरूर आजमाएं

एक बार की बात है एक संत के पास उनका शिष्य पहुंचा और उनसे विनम्रता से कहा, मुझे मुक्ति का मार्ग बताएं। संत बोले, कब्रिस्तान जाओ और सारी कब्रों को गालियां देकर आओ। शिष्य ने संत के अनुसार ऐसा ही किया। अगले दिन वह शिष्य फिर संत के पास गया तब संत ने कहा, इस बार तुम फिर कब्रिस्तान जाओ ... Read More »

विद्वान और महान बनने का रहस्य

एक नवयुवक ने महान बनने का विचार किया। विश्वविद्यालय की शिक्षा प्राप्त करने के बाद उसने महान व्यक्तियों के बारे में पढ़ डाला। किसी ने गुरुमंत्र दिया- महान बनने के लिए महान लोगों के संपर्क में रहना आवश्यक है। अब नवयुवक ने उन सब लोगों के संपर्क में रहना शुरू कर दिया जो महान साहित्यकार, कलाकार, नेता, विचारक और वैज्ञानिक ... Read More »

खोजिए जिंदगी के हर पल में खुशियां

iग्लैंड के प्रसिद्ध लेखक जॉन रस्किन एक समारोह में गए। उनके पास बैठी युवती के हाथ में एक सुंदर रूमाल था। उसे वह उपहार में मिला था। अचानक उस रूमाल पर कुछ गिर गया। उस पर गहरा धब्बा हो गया। वह सुंदर युवती परेशान हो गई। पास में बैठे रस्किन ने उस लड़की से कहा कि कुछ देर के लिए ... Read More »

बस चले तो मैं सभी विचारवान व्यक्तियों को सफाई में लगा दूं

बस चले तो मैं सभी विचारवान व्यक्तियों को सफाई में लगा दूं

महात्मा गांधी की ख्याति न केवल भारत बल्कि संपूर्ण विश्व में है। वह जहां भी जाते थे लोग उनका बहुत स्वागत सत्कार करते थे और यही आलम भारत के विभिन्न शहरों और गांवो में भी था। एक बार पत्रकारों की गोष्ठी में बापू राजनीतिक प्रसंगो पर उत्तर दे रहे थे। उसी समय हास्य-विनोद की मुद्रा में एक पत्रकार ने बापू ... Read More »

विश्व प्रेम की भावना से करें कर्म

स्वामी दयानंद ने फर्रुखाबाद में गंगा के किनारे एक झोपड़ी में अपना डेरा डाला था। कैलाश नाम का एक युवक की उन पर बड़ी ही श्रद्धा थी। एक दिन वह उनके पास आया और उसने अंदर आने की अनुमति मांगी। दयानंद हंसते हुए बोले, ‘यदि कैलाश इस छोटे से झोपड़े में प्रवेश कर सकता है, तो उसे अवश्य आना चाहिए।’ ... Read More »